oetrRccjceib bigger

रक्षाबंधन में विशेष तौर पर बनाई जाने वाली सेवई की मीठी खीर बनाने की रेसिपी

दोस्तों आपने बहुत सी स्वीट दिस तो खायी होगी लेकिन क्या आपने कभी अपने घर में बनाकर कभी कोई स्वीट दिस खायी है | चावल की खीर तो आपने कई बार खायी है | लेकिन क्या आपने रक्षाबंधन पर घर पर सबसे स्पेशल तौर पर बनने वाली मीठी सेवई कि खीर खायी है | ये सेवई की खीर रक्षाबंधन में विशेष तौर पर बनाई जाती है | जो सभी को बहुत पसंद होती है | और सभी लोग इसे बड़े शौंक से खाते है | रक्षाबंधन आने वाला है और हमने इन्ही सब को देखते हुए आज सेवई की मीठी खीर बनाने की रेसिपी लिखी है | जानने के लिए आगे पढ़े –

 

सेवई की मीठी खीर बनाने की आवश्यक सामग्री –

  • सेवई – 1 कप
  • दूध – 1 लीटर
  • चीनी – 150 ग्राम कप चीनी
  • बादाम – 50 ग्राम  (बारीक़ लम्बाई काट ले )
  • काजू – 50 ग्राम  ( बारीक़ काट ले )
  • केसर – 10 रेशे  ( दूध में भिगोये हुए )
  • इलायची –  8 से 10 इलायची के बिज
  • देशी घी – 2 चम्मच

सेवई की मीठी खीर बनाने की विधि –

  • सबसे पहले गैस जलाये और फिर एक कढाई गैस पर रखे और गरम करे |
  • अब कढाई में देशी घी डाले और फिर सेवई डालकर हल्की आंच में चम्मचे से लगातार चलाते हुए हल्की भूरी होने तक भुन ले |
  • जब सेवई हल्की भूरी हो जाये | सेवई को एक प्लेट में निकाल ले |
  • अब एक पैन को गैस पर रखे और हम पैन में दूध गरम करेंगे और दूध को उबाल लेंगे |
  • जब दूध उबल जाये इसमें भुनी हुयी सेवई डाल देंगे |
  • अब 1 मिनट के लिए सेवई की खीर पकाएंगे |
  • तब इसको चलाएंगे और फिर खीर में बादाम , काजू , इलायची के बीज , और केसर आदि डालेंगे और 2 से 3 मिनट के लिए पकाएंगे | जब सेवई दूध में उपर दिखने लगे | फिर सेवई खीर को चम्मचे से चलाये और गैस बंद क्र दे | सेवई की खीर को नीचे उतार ले | अब खीर को ठंडा होने दे |
  • जब खीर हल्की ठंडी हो जाये | इसमें चीनी डालकर चलाये और थोड़ी देर के लिए ढककर रख दे |
  • अब सेवई की मीठी खीर तैयार है | हम सेवई की खीर को बाउल में डालेंगे और बादाम , काजू केसर से डेकोरेट करेंगे | फिर सबको सर्व करेंगे | बहुत ही स्वादिस्ट खीर है | आप भी जरुर ट्राई करे |आपको सेवई की खीर बनाने की रेसिपी पसंद आई है , तो आप भी ये रेसिपी पढ़कर सेवई की मीठी खीर जरुर बनाकर देखे | और आप ऐसी ही बहुत सी रेसिपी पढने के लिए WWW.BOOKBAAK.COM पर देख सकते है |

Post Author: Pooja Aggarwal