Raksha Bandhan  Hindi Greeting Card

रक्षाबंधन का त्योहार क्यों मनाया जाता है , इसके महत्व और विशेषताए

रक्षाबंधन पुरे भारत में मनाया जाता है | ये एक पवित्र रिश्ते का त्योहार है | जिसमे बहिन नहा धोकर एक पूजा की  प्लेट को रोली , चावल ,मिठाई और रंग बिरंगी राखी से सजाती है | पुरुष भी स्नान अदि करके एक चौकी पर बैठते है | फिर बहन अपने भाई का रोली – चावल से  तिलक करके मिठाई खिलाती है | अपने भाई की कलाई पर एक रक्षासूत्र बांधती है और भाई की लम्बी आयु की कामना करती है | और भाई भी अपनी बहन को उसकी रक्षा करने का वचन देता है | भाई बहिन का रिश्ता सबसे पवित्र रिश्ता माना जाता है | इस दिन भाई अपनी बहन को तोहफा भी देता है | जिसे बहन भाई का आशीर्वाद समझ कर रख लेती है | रक्षाबंधन में बड़ी बहन भी अपने छोटे भाइयो को तोहफे देती है |

रक्षाबंधन का महत्व –

रक्षाबंधन का त्योहार श्रावण माह की पूर्णिमा को मनाया जाता है | २०१७ में रक्षाबंधन का त्यौहार ७ अगस्त के दिन मनाया जायेगा | और इसी दिन श्रावण माह का आखिरी सोमवार व्रत भी पड़ रहा है | ये त्योहार भाई – बहन के रिश्ते को और भी मजबूत बनाता है और एक दुसरे के प्रति अपनी जिम्मेदारियों का एहसास कराता है | ये एक धागा ही इस त्यौहार में सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण स्थान  रखता है और भाई – बहन के रिश्तों को जोड़े रखता है | ये रक्षासूत्र केवल  भाई – बहन ही नही अपितु ये त्योहार समस्त संसार के समाजिक सम्बन्धो को भी मजबूत बनाता है |और एक दुसरे के प्रति आदर सम्मान की भावना जाग्रत करता है | इस दिन भाई बहन सभी मतभेद को भुलाकर अपने रिश्तों को आगे बढाते है और अपने कर्तव्यो को निभाने का वचन लेते  है |

रक्षाबंधन की विशेषताए –

रक्षाबंधन एक ऐसा पवित्र बंधन का त्योहार है जो आज के युग में सिर्फ भाई – बहन तक ही सिमित नही रहा | बल्कि रक्षाबंधन अब सभी जगहों में मनाया जाने लगा है | ये पवित्र रक्षा सूत्र अब सभी जेसे – भाई बहन को जोड़े रखती है | वेसे ही अब माता – पिता अपने बेटे को , दोस्त – दोस्त को , बहन – बहन को ,भाई – भाई को ,गुरु शिष्य को एक – दुसरे के प्रति आदर भाव रखते हुए एक दुसरे को रक्षासूत्र बाधते है | और एक दुसरे से हर दुःख- सुख में रक्षा करने का वचन लेते है |

आज के युग में रक्षाबंधन में ये धागा केवल भाई – बहन तक ही सिमित नही रहा | अपितु ये एक विश्वास और सरधा भाव से निभाया जाने वाला रक्षासूत्र है | जिसे हम “ राखी “ के नाम से जानते है | राखी बाजार में एक सूती धागे से बनी होती है | राखी को बहुत से मेटेरियल से सजाया जाता है और रंग बिरंगे धागों से बनाया जाता है | बाजार में राखी बहुत सस्ती भी और बहुत महंगी भी मिल जाती है | कुछ लोग तो सोने और चांदी की राखिया खरीदते है और अपने भाईयों की कलाई पर  बांधते है | लेकिन मन में विशवास और श्रधा भाव से बाँधा गया धागा ही सबसे पवित्र रक्षासूत्र है | चाहे वो कितना सस्ता और मामूली ही क्यों न हो | इस एक रेशमी धागे को मन्त्रो से पढ़कर बांधा जाता है | और भाई की लम्बी और स्वस्थ जीवन की कामना की जाती है |

अगर आपको हमारे दुवारा रक्षाबंधन के त्योहार का महत्त्व पता चल गया है | और आपको ऐसे ही और भी तयोहारो के बारे में जानकारी लेनी है तो उसके लिए आप हमारी साईट WWW.BOOKBAAK.COM पर जाये |

Post Author: Pooja Aggarwal