टूटी हड्डी को जोड्ने एवं मजबूत बनाने के घरेलु उपचार

टूटी हड्डी को जोड्ने एवं मजबूत बनाने के घरेलु उपचार

टूटी हड्डी को जोड्ने एवं मजबूत बनाने के घरेलु उपचार

दोस्तों आज हम bookbaak.com पर टूटी हड्डी को जोड्ने एवं मजबूत बनाए के उपाय के बारे में जानेगे | हड्डी टूटने पर बहुत दर्द होता है और हड्डी कमजोर भी हो जाती है इसलिए हड्डी को मजबूत करने के लिए हमें घर पर ही क्या करना चाहिए इसके बारे में हम यहाँ पर जानेंगे |

हड्डी टूटने के लझण :-

हड्डी जहाँ से टूटी होती है, वहाँ आस पास ख़ून जमा होने जाने के कारण सूजन आ जाती है।
हड्डी अपनी जगह से खिसक जाए तो वहाँ टेढ़ापन दिखाइ  देने लगता है।
गंभीर मामलों में हड्डी टूटने पर एक भाग लटक जाता है, वहाँ का सेंसेशन कम हो जाता है और वो भाग नीला पड़ जाता है।
हेयर लाइन फ़्रैक्चर के मामले दर्द के अलावा अन्य लक्षण मामूली होते हैं। इस समस्या का पता लगाने के लिए एक्स- रे करवाना पड़ता है |

हड्डी टूटने के कारण:-

  • हड्डी टूटने के बहुत से कारण होते है ज्यादातर हड्डी चोट लगने के कारण टूटती है। ऐसा तब होता है, जब गिरते समय शरीर का सारा वज़न किसी एक भाग पर आ जाए और हड्डी उसको झेल न पाए।
  • कुछ बीमारियाँ ऐसी होती हैं जो हड्डियों को अंदर से खोखला कर देती हैं। खोखली हड्डियाँ मामूली चोट या झटके से टूट सकती हैं।
  • बच्चे के जन्म के समय यदि दाई या नर्स ज़्यादा खींचतान करे तो नवजात की हड्डी टूटने का ख़तरा रहता है।
  • हड्डी पर कोई भारी वस्तु गिरने से भी फ़्रैक्चर हो जाता है।
  • बढ़ती उम्र के साथ बोन डेंसिटी कम हो जाती है, जिससे हड्डियाँ कमज़ोर हो जाती हैं। गिरने, फिसलने या झटके से भी हड्डी टूट जाती है।

हड्डी फ़्रैक्चर होने पर क्या करें क्या न करे ?

  • हड्डी टूटने की स्थिति में उसको सहारा दें ताकि वो हिले नहीं और दर्द कम हो। टूटी हड्डी हिलने से टूटे हुए भाग एक दूसरे से दूर हो जाते हैं, जिनके बीच कोई नस भी फंस सकती है। और जिस जगह हड्डी टूटी है उस जगह को हिलाए नहीं |
  • जहाँ से हड्डी टूटी हो, उसके चारों मोटा में अखबार लपेटकर कोई सख़्त चीज़ जैसे लकड़ियाँ आदि बांधकर सहारा देना चाहिए।
  • कंधे की हड्डी टूटने या खिसकने पर कपड़े, दुपप्टे या पट्टी से सहारा देना चाहिए।
    अगर टूटी हुई हड्डी स्किन और मांस फाड़ कर बाहर दिखने लगे तो इंफ़ेक्शन से बचाने के लिए उसे कपड़े से ढक देना चाहिए।

टूटी हड्डी जोड़ने के घरेलू उपाय:-

  • हड्डियों के पोषण और इनकी मरम्मत के लिए कैल्शियम से भरपूर खाने की चीजो का सेवन करना चाहिए। ज्यादातर कैल्शियम की कमी के कारण ही हड्डियाँ कमज़ोर होकर टूटती है। फ़्रैक्चर की तेज़ रिकवरी के लिए कैल्शियम की मात्रा सर्वोत्तम है, इसलिए डॉक्टर भी कैल्शियम की गोलियाँ देते हैं। टूटी हड्डी जोड़ने के लिए इन बातों का ध्यान रखें।
  • दुग्ध डेयरी उत्पादों में कैल्शियम सबसे अधिक मात्रा में होता है।
  • जो लोग मांस खाते है वो सल्मान, आइसस्टार और हिल्सा मछली खाकर कैल्शियम बढ़ा सकते हैं।
  • हरी सब्ज़ियाँ में भी कैल्शियम की मात्रा भरपूर होती है |
  • विटामिन डी की उपस्थिति के साथ कैल्शियम शरीर में जल्दी बनता है | इसलिए भोज्य पदार्थ में विटामिन डी को भी स्थान दें। सुबह की धूप सेंकने से भी विटामिन डी मिलता है।
  • गर्भवती महिलाओं की बोन डेंसिटी घटने के कारण उन्हें कैल्शियम की अधिक आवश्यकता पड़ती है, ताकि हड्डियों को मज़बूती मिले। इसलिए महिलायों को कैल्शियम की गोली खानी चाहिए |
  • टूटी हड्डी को सहारा देते वक़्त इस बात का ख्याल रहे की हड्डी को जादा न कसे, इससे खून प्रवाह रुक जाएगा और परेशानी बढ़ सकती है।
  • शरीर के किसी जगह हड्डी पर अगर कोई घाव हो जाये तो इसका उपचार करना ज़रूरी है। हड्डी टूट जाने पर जख्म को ठीक से सॉफ करे और दवा लगाए।
  • चोट लगने पर कई बार हड्डी का टुकड़ा अलग हो कर निकल जाता है। ऐसे में इस टुकड़े को आप फेंके नहीं, इसे साफ़ करके किसी कपड़े में बाँध कर चोट लगने वाले व्यक्ति के साथ हॉस्पिटल भेजे।

 

1 शुद देसी घी से:-

आप अपनी टूटी हुई हड्डी का उपचार करने के लिए 1 चम्मच देसी घी, १/२ चुटकी भर हल्दी, १/२ चम्मच गुड़ में १/२ कप पानी मिलाकर इसे उबाल लें। ऐसा करने के बाद जब पानी आधा बच जाए तो गैस बंद कर लें और फिर इसे ठंडा करने के लिए रख दें। जब यह ठंडा हो जाए तो ऐसे में आप इसका सेवन कर लें। इस उपचार से टूटी हुई हड्डी जुड़ने लगेगी। और दर्द में भी लाभ होगा |

दाल से:-

सबसे पहले हड़जोड़ जड़ी बूटी को धूप में सूखा लें और फिर इसमें उड़द की दाल मिलाकर इन्हें अच्छी तरह से पीस लें। अब इसका एक पेस्ट तैयार कर लें। इस लेप को आप टूटी हुई हड्डी पर लगा लें और फिर इसे साफ कपड़े से बांध लें। इस उपचार को करने से आपको टूटी हुई हड्डी आसानी से जुड़ने लगती है। इस उपचार को अपनाने से आपको अपने आप में फर्क नजर आने लगेगा। हडजोड जड़ी बूटी आपको पंसारी की दुकान या पतंजलि उत्पाद में मिल जायेगी |

प्याज

प्याज का पेस्ट बनाकर इसमें एक चम्मच हल्दी मिला लें। अब इसे एक कपड़े में बांध लें। इस कपड़े को फिर तिल के तेल में गर्म कर लें। अब इसे अपनी टूटी हुई हड्डी में लगा लें और उस जगह की सिकाई करें।

हड्डियाँ मज़बूत करने के उपाय

  • हरी सब्ज़ियाँ ज़रूर खाएँ।
  • विटामिन डी की पूर्ति के लिए सुबह की धूप सेंकनी चाहिए।
  • शारीरिक श्रम वाले खेल खेलें और काम करें।
  • लहसुन और प्याज खाने से हड्डियों के लिए ज़रूर सल्फ़र मिलता ।
    नियमित योग करें।
  • विटामिन डी की पूर्ति के लिए सुबह की धूप सेंकनी चाहिए।
    शारीरिक श्रम वाले खेल खेलें और काम करें।

दोस्तों यदि आपको इस प्रकार की घरेलु नुस्खे और पड़ने है तो please हमारे पेज bookbaak.com पर clck करे |

Post Author: Seema Gupta